FeaturedBeautyFood & NutritionWeight Loss

Surprising way to reduce risk of heart blockage – कभी नहीं होगी हार्ट ब्लॉकेज

Reduce risk of heart blockage – हम अक्सर देखते हैं कि हम काम में ऐसे व्यस्त और मग्न हो जाते हैं की अपनी सेहत ध्यान ही नहीं देते। आज हम हार्ट अटैक यानि दिल की बिमारी के बारे में बात करने जा रहे हैं।

हार्ट ब्लॉकेज की जांच

Reduce risk of heart blockage – जो लोग रेगुलर सेहत जाँच करवाते रहते हैं उन्हें तो अपनी सेहत समस्याओं का पता चलता रहता है. पर जो लोग रेगुलर सेहत जांच नहीं करवाते उन्हें पता नहीं चलता कि उनकी दिल की समस्याएं बढ़ रही हैं। ऐसे में भगवान न करें, अगर किसी को हार्ट ब्लॉकेज या हार्ट की समस्या हो, तो वो बहुत गंभीर समस्या हो सकती है।

Surprising way to reduce risk of heart blockage

हार्ट ब्लॉकेज (heart blockage)

महाऋषि वागवट जी ने लिखा है की अगर आपको हार्ट ब्लॉकेज हो रही है तो इसका अर्थ ये है कि आप के ब्लड में एसिडिटी बढ़ रही है। Acidity दो प्रकार की होती है, एक पेट की acidity और दूसरी खून में acidity. जब पेट में acidity होती है तो हमें पेट में जलन, खट्टे डकारें होती हैं और अगर हार्ट में acidity हो तो वो hyper-acidity बन जाती है।

जब पेट की एसिडिटी बढ़ के ब्लड में चली जाती है तो वो hyper-acidity बन जाती है। ब्लड में एसिडिटी होने के कारण वो दिल की नालियों में जम जाता है जिसे हार्ट ब्लॉकेज (heart blockage) कहते हैं, और ब्लड फ्लो सही न होने के कारण हार्ट अटैक होता है। (ये भी पढ़ें कमर दर्द से राहत के 4 आयुर्वेदिक नुस्खे)

हार्ट ब्लॉकेज ख़त्म करें

महाऋषि वागवट ने लिखा है कि अगर किसी को हार्ट ब्लॉकेज हो तो ऐसी चीजों का उपयोग करो जो छारीय हैं. जिस से ब्लड की अमलता neutral हो जायें. यानी ब्लड में एसिडिटी ख़तम हो जाये. जब ब्लड में एसिडिटी ख़तम हो गयी तो हार्ट ब्लॉकेज ख़त्म हो जाएगी और हार्ट अटैक कभी आ ही नहीं सकता।

Surprising way to reduce risk of heart blockage

Surprising way to reduce risk of heart blockage
कभी नहीं होगी हार्ट ब्लॉकेज

ऐसे दूर करें हार्ट ब्लॉकेज (heart blockage)

सबसे ज़्यादा छारिय चीज़ लौकी (bottle gourd) है। अगर आप के हार्ट में ब्लॉकेज है तो आप हर रोज़ सुबह खाली पेट एक गिलास लौकी का जूस पीएं। लौकी के जूस को और छारिय बनाने के लिए, इसे में सात से दस पत्ती तुलसी और पुदीना के भी डाल सकते हैं। (ज़रूर पढ़ें मोटापा कम करेंगे 5 ayurvedic foods)

लौकी का जूस निकालने से पहले ये जरूर चेक करें के कढ़वी न हो। इस जूस में आप काला या सेंधा नमक ज़रूर डालें। याद रखें आप को सफ़ेद नमक (आयोडीन वाला) नहीं डालना, ये एसिडिटी बढ़ाता है। 21वें दिन आप को फरक महसूस होने लगेगा। और दो से तीन महीनों में ब्लड की सारी ब्लॉकेज ठीक हो जाएगी।

Surprising way to reduce risk of heart blockage

अगर आप सेहतमंद हैं तो आप फिर भी इस उपयोग का सेवन साल में एक बार कर सकते हैं। लौकी का मौसम जब आता है तब आप एक महीना इस विधि को फॉलो करें ता कि आप का दिल हमेशा सेहतमंद रहे।

इस पोस्ट में अपनी बॉडी में हार्ट ब्लॉकेज को ख़तम करने के तरीके बताये गये हैं. कृपया इस जानकारी को अन्य दोस्तों से जरुर शेयर करें. हो सकता है ये किसी जरूरतमंद को इस जानकारी से फायदा मिल सके.

Leave a Reply

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
Close